कैड संस्था ने विद्यार्थियांं में वैज्ञानिक सोच के विकास के लिये कार्यशाला का हुआ आयोजन पढ़ाई को अगर खेल बना लिया जाये तो शिक्षा और बेहतर होगी-जिलाधिकारी

1


*प्रतापगढ़* – सोसाइटी फॉर क्रिएटिंग ए डिफेरेंस (कैड) द्वारा आज तुलसीसदन (हादीहाल) में एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसका जिलाधिकारी शम्भु कुमार, कैड संस्था के चेयरमैन पवन कुमार, इनकम टैक्स ज्वाइन्ट कमिशनर अभिषेक कुमार तथा विकास कुमार दिल्ली यूनिर्वसिटी के प्रोफेसर ने दीप प्रज्जवलन व माँ सरस्वती के चित्र पर मार्ल्यापण कर सेमिनार की शुरूआत की गयी। सेमिनार में आये हुये अतिथियों का जिला विद्यालय निरीक्षक एस0पी0 यादव ने पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। कैड सोसाइटी रजिस्ट्रेशन एक्ट-1860 के तहत एक पंजीकृत संस्था है। कैड का विजन विज्ञान, शिक्षा एवं शोधा को बढ़ावा देना है और इसमें कम सुविधा प्राप्त छात्रों पर नजर रहती है। यह संस्था कक्षा-8 की क्लास से कक्षा-12वीं क्लास के छात्रों के कार्य करती है, यह संस्था विज्ञान के क्षेत्र में रूचि लेकर कैरियर बनाने पर जोर देती है।
इस अवसर पर कैड संस्था के चेयरमैन पवन कुमार ने बच्चों को जागरूक करते हुये कहा कि देश साइन्स के क्षेत्र में सुपर पावर बन रहा है इसलिये विद्यार्थियों को सही तरीके से पढ़़ाई करनी चाहिये। विद्यार्थी को बेहतर पढ़ाई कर विद्यार्थियों को अपना लक्ष्य इस प्रकार तय करना चाहिये जिससे वे कैरियर के साथ देश में विकास में भी योगदान दे सकें। इस दौरान संस्था के चेयरमैन ने विद्यार्थियों को इण्टरनेशनल ओलंपीयाड, किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना, भारतीय विज्ञान शिक्षण संस्था एवं अनुसंधान संस्था के बारे में विस्तार से बताया। इसी प्रकार इनकम टैक्स ज्वाइन्ट कमिशनर अभिषेक कुमार एवं दिल्ली यूनिर्वसिटी के प्रोफेसर विकास कुमार ने भी बच्चों को ज्ञानवर्धक जानकारी दी।
सेमिनार में जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि कैरियर के क्षेत्र में सही समय पर सही कदम उठाने की आवश्यकता है, विद्यार्थी अपने अन्दर जिज्ञासा जागृति करें ताकि उसका समाधान किया जा सके। उन्होने कहा कि विद्यार्थियों में वैज्ञानिक सोच एवं आगे बढ़ने के लिये जुनून होना चाहिये सफलता अपने आप मिलेगी। उन्होने कहा कि इस तरह के सेमिनार का आयोजन स्कूलो में कराया जाये जिससे छात्रों में शिक्षा के प्रति रूचि पैदा हो। उन्होने कहा कि यदि कड़ी मेहनत करके आगे बढ़ा जा सकता है तो यदि पढ़ाई को अगर खेल बना लिया जाये तो शिक्षा और बेहतर होगी। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने मतदाता जागरूकता की शपथ दिलाते हुये बच्चों को कहा कि वे अपने अभिभावक, पास-पड़ोस के लोगों को बताये कि मतदान अवश्य करें जिससे हमारे देश को सशक्त बनाया जा सके और भारत देश विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है इसलिये कोई भी व्यक्ति मतदान करनें से वंचित न हो और वह अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें। कार्यशाला के अन्त में क्विज कान्टेस्ट भी आयोजित किया गया। इस कान्टेस्ट के 11 विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया।
———————-
*प्रभात पाण्डेय*