खबर खेल के मैदान से

फानूस बनकर जिसकी हिफाजत हवा करे ।वो शमा क्या बुझेगी जिसे रोशन खुदा करे। जी हां ऐसा ही हुआ है विराट सेना ने रचा एक और विराट इतिहास ऑस्ट्रेलिया में खेली जा रही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की श्रृंखला का आज अंतिम मैच भी भारत ने ऑस्ट्रेलिया कंगारुओंको 7 विकेट से रौंदते हुये श्रृंखला को दो एक से अपने नाम करते हुये विराट सेना ने एक और विराट इतिहास रच दिया ऐसा पहले क्रिकेट इतिहास में कभी भी नहीं हुआ था जब कभी भी भारतीय टीम ने एक ही दौरे पर टेस्ट श्रृंखला और एकदिवसीय श्रृंखला जीती हो।

ओल्ड इज गोल्ड महेंद्र सिंह धोनी कंगारूओं पर कहर बनकर टूटेऔर कंगारुओं पर बरसते रहे धोनी ने 114 गेंदों में छह चौकों की मदद से 87 रन ठोके केदार जाधव भी दमदार तरीके से 57 गेंदों की पारी में 61 रनों का योगदान किया जिसमें 7 चौके शामिल रहे वहीं पर अगर बात करें ओपनर बल्लेबाजों की तो रोहित शर्मा 17 गेंदों में 9 रन बनाकर आउट हुए विराट कोहली भी जमकर खेलते हुए 62 गेंदों में तीन चौकों के साथ अपनी टीम के लिए 46 महत्वपूर्ण रन बनाये। शिखर धवन ने भी 46 गेंदों में 23 रनों की पारी खेली।भारत का पहला विकेट 15 रनों के स्कोर पर गिरा दूसरा विकेट 59 रन के स्कोर पर गिरा और तीसरा विकेट 113 के स्कोर पर विराट कोहली के रूप में गिरा लेकिन अंततः भारत ने 49 ओवर और 2 गेंदों में लक्ष्य को हासिल कर लिया भारत का अंतिम स्कोर 234 रन रहा।

इससे पहले ऑस्ट्रेलियायी टीम बल्लेबाजी करते हुए 48.2 ओवरों मे 230 रनों पर सिमट गई और आसान लक्ष्य भारत के सामने रखा भारत की ओर से सधी हुई गेंदबाजी करते हुए यूज़वेंद्र चहल ने कंगारुओं के छह विकेट झटके जहां पर उन्होंने 10 ओवर के स्पेल में 42 रन दिए। यूज़वेंद्र चहल के शानदार खेल के लिए मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया वहीं पर होनी को अनहोनी करने वाले महेंद्र सिंह धोनी को मैन ऑफ द सीरीज का खिताब मिला।
प्राईड इंडिया न्यूज क्राईम रिपोर्टर-राकेश शर्मा,सीधी-कुचवाही