अंधेरे में गूजर बसर हो रही जिन्दगी नेता जी गांवआए वोट मांग कर वापस लौट गए।

सिगरौली
——————————————
चितरंगी मुख्यालय से सटी ग्राम पंचायत बोदा खुंटा के बैरी टोला मे लाइन का 11 हजार kv पोल तार दरवाजे से हो कर अन्य जगह के लिए पहरा दे रहे पर बैरी टोला 100 घर की बस्ती विशेष जाति(बैगा) की 500आबादी है जहां शाम होते है अंधेरा पसर जाता है इसे कहते हैं दीपक तले अंधेरा जो गरीब वनवासियों को अधुनिक सुख सुविधाओं से वंचित कर अर्सों से मजे ले रहा है। बैरी टोला चारों तरफ से घने जंगलों से घिरा ग्राम जहरीले कीड़े मकोड़े जंगली जानवर की बीच बसा हुआ है फिर भी आदिवासी वनवासी अपनी निर्भय जिन्दगी मे मस्त है नेता जी आए वोट मांग कर लौट गए।
*बोदा खुंटा मे कार्य प्रगतिशील है जल्द ही बैरी टोला मे काम चालू होगा।*
*कमलेश टेकाम जे ई चितरंगी।*